×

uproar sentence in Hindi

"uproar" meaning in Hindi  uproar in a sentence  

Examples

  1. Many in the industry feel the uproar was long overdue .
    फिल्मोद्योग में कई लगों का मानना है कि यह बवाल तो उ ना ही था .
  2. My Benares speech , briefly reported , created an uproar .
    बनारस के मेरे भाषण से , जिसकी रिपोर्ट अखबारों में महज संक्षेप में छपी थी , बड़ा हो-हल्ला मच गया .
  3. There must have been a great uproar in the conservative sections and Basava must have faced all the abuses and threats with courage for a short period .
    रूढिवादी हल्कों में बहुत शोर हुआ होगा और कुछ समय के लिए बसव ने सभी गालियों और धमकियों का डटकर मुकाबला भी किया होगा .
  4. Nothing exposed this limitation to the Centre 's authority over its star civil servants than the recent uproar over its decision to call back , or “ requisition ” , three IPS officers from Tamil Nadu .
    केंद्र की यह मजबूरी हाल में तमिलनाड़ु से तीन आइपीएस अधिकारियों को वापस बुलने के फैसले पर उ ए बवाल से जाहिर ही .
  5. After decades of stasis, the Middle East is in uproar. With too much going on to focus on a single place, here's a review of developments in four key countries. Mu'ammar al-Qaddafi in full military splendor.
    दशकों तक जड स्थिति में रहने के बाद मध्य पूर्व अचानक ज्वालामुखी बन गया है। इस क्षेत्र में इतना कुछ घटित हो रहा है कि एक स्थान पर ध्यान टिका पाना कठिन है , यहाँ प्रमुख चार देशों में हो रहे घटनाक्रम की समीक्षा समीचीन है।
  6. And if this notion of a quiescent people were once convincing, surely the Middle East uproar during 2011 suggests that even peoples who obey for decades retain a fire within them that unpredictably can bring down their rulers. Libyans, whom many assumed accepted the ravings of Mu'ammar al-Qaddafi, turned out, for example, to have been thinking for themselves.
    यदि यह दृष्टिकोण सही भी है कि एक बार के लिये लोग चेतनाहीन और गतिहीन हो जाते हैं तो भी मध्य पूर्व में वर्ष 2011 में हुये शोर ने दिखा दिया कि यहाँ तक कि वे लोग भी जो कि दशकों तक अपने शासक की बात मानते रहे उन्होंने भी अपने भीतर आग दबाकर रखी थी और अप्रत्याशित रूप से उनके शासन को ध्वस्त कर दिया। लीबिया के शासक मुवम्मरअल कद्दाफी का पतन इस बात का उदाहरण है कि लोग अपने बारे में सोचते हैं।
  7. Westerners generally perceive this violence as a challenge to their right to self-expression. But if freedom of speech is the battlefield, the greater war concerns the foundational principles of Western civilization. The recurrent pattern of Islamist uproar exists to achieve three goals - not always articulated - that go well beyond prohibiting criticism of Islam.
    आमतौर पर पश्चिम के लोग इस हिंसा को अपनी अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पर चुनौती मानते हैं। लेकिन अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता यदि लडाई का मैदान है तो बडा युद्ध तो पश्चिमी सभ्यता के आधारभूत सिद्धांतों से जुडा है। इस्लामवादी आक्रामकता मुख्य रूप से तीन लक्ष्यों की प्राप्ति के लिये कटिबद्ध है जिसे प्रत्यक्ष रूप से व्यक्त नहीं किया जाता और यह इस्लाम की आलोचना को रोकने से अधिक दूर तक जाता है।
  8. Most of the uproar against the honor is taking place in Pakistan, as it did in 1988, when Sir Salman's novel, The Satanic Verses , was initially published. “We deplore the decision of the British government to knight him,” a Foreign Ministry spokeswoman said The lower house of parliament unanimously passed a government-backed resolution calling Rushdie a “blasphemer.” Most extraordinarily, Pakistan's minister of religious affairs, Mohammed Ijaz ul-Haq, endorsed suicide bombing against the United Kingdom. “If someone exploded a bomb on his body, he would be right to do so unless the British government apologizes and withdraws the ‘sir' title.” Ijaz ul-Haq later added that “If someone commits suicide bombing to protect the honor of the Prophet Muhammad, his act is justified.”
    जैसा कि आब्जर्बर के स्तम्भकार निक कोहेन ने लिखा है कि 60 वर्षीय सलमान रशदी को ब्रिटेन की महारानी द्वारा 16 जून को नाइटहुड की उपाधि दिया जाना ब्रिटेन के मुसलमानों के प्रति बदलते व्यवहार का प्रतीक है ? या फिर इस्लामवाद के विशेषज्ञ सदानन्द ड्यूम ने जैसा वाल स्ट्रीट जर्नल में कहा है कि “यह ब्रिटिश आधार स्वागतयोग्य उदाहरण है ''।
  9. Third reflection: the Muslim uproar has a goal: to prohibit criticism of Islam by Christians and thereby to impose Shariah norms on the West . Should Westerners accept this central tenet of Islamic law, others will surely follow. Retaining free speech about Islam, therefore, represents a critical defense against the imposition of an Islamic order. Related Topics: Freethinking & Muslim apostasy receive the latest by email: subscribe to daniel pipes' free mailing list This text may be reposted or forwarded so long as it is presented as an integral whole with complete and accurate information provided about its author, date, place of publication, and original URL. Comment on this item
    तीसरा प्रतिबिम्ब- इस मुस्लिम प्रतिक्रिया का एक उद्देश्य है ईसाइयों द्वारा इस्लाम की आलोचना को प्रतिबन्धित करते हुये पश्चिम पर शरियत के नियमों को थोपना. क्या पश्चिमवासियों को इस्लामी कानून के इस मुख्य विचार को स्वीकार कर लेना चाहिये जिसके बाद और भी इसका अनुकरण करेंगे. इस्लाम के सम्बन्ध में स्वतन्त्र अभिव्यक्ति इस्लामी व्यवस्था के थोपे जाने के विरूद्ध एक महत्वपूर्ण बचाव है.
  10. The era of Islamist uproar began abruptly on February 14, 1989, when Ayatollah Ruhollah Khomeini, Iran's supreme leader, watched on television as Pakistanis responded with violence to a new novel by Salman Rushdie, the famous writer of South Asian Muslim origins. His book's very title, The Satanic Verses , refers to the Koran and poses a direct challenge to Islamic sensibilities; its contents further exacerbate the problem. Outraged by what he considered Rushdie's blasphemous portrait of Islam, Khomeini issued an edict whose continued impact makes it worthy of quotation at length: I inform all zealous Muslims of the world that the author of the book entitled The Satanic Verses - which has been compiled, printed, and published in opposition to Islam, the Prophet, and the Koran - and all those involved in the publication who were aware of its contents, are sentenced to death.
    इस क्रम में मैं दो बिन्दुओं के बारे में चर्चा करना चाहूँगा। पहला तो यह कि पश्चिम का इस्लाम और मुसलमानों के बारे में चर्चा करने , उनकी आलोचना करने और यहाँ तक कि उसे चिढाने का अधिकार क्षीण हुआ है। दूसरा, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता समस्या का अत्यंत छोटा पहलू है दाँव पर कुछ कहीं अधिक लगा है जो कि निश्चय ही हमारे समय का सबसे मह्त्वपूर्ण प्रश्न है, क्या पश्चिमी लोग अपनी ऐतिहासिक सभ्यता को इस्लामवादी आक्रमण के समक्ष बरकरार रख पायेंगे या फिर वे इस्लामी संस्कृति और कानून के समक्ष समर्पण कर द्वितीय श्रेणी के नागरिक होकर रह जायेंग़ॆ?
More:   Next


Related Words

  1. upright type
  2. uprightness
  3. uprise
  4. uprising
  5. upriver
  6. uproarious
  7. uproariously
  8. uproot
  9. uprooted
  10. ups
PC Version
हिंदी संस्करण


Copyright © 2023 WordTech Co.