×

syndrome in a sentence

pronunciation: [ [ 'sindrəum ] ]
syndrome meaning in Hindi

Examples

  1. The Muslim response of denouncing these views as bias, as the “new anti-Semitism,” or “ Islamophobia ” is as baseless as accusing anti-Nazis of “Germanophobia” or anti-Communists of “Russophobia.” Instead of presenting themselves as victims, Muslims should address this fear by developing a moderate, modern, and good-neighborly version of Islam that rejects radical Islam, jihad, and the subordination of “infidels.” July 29, 2006 update : I am pleased to report that rayra.net and Freedom's Enemies have both produced lists of Sudden Jihad Syndrome incidents in the United States. I hope they continue to update their logs as incidents tragically continue to occur.
    इस रोग से इस्लाम के प्रति भय और मुसलमानों के प्रति अविश्वास की पुष्टि होती है जो 11 सितंबर के बाद के जनमत सर्वेक्षणों में निरंतर बढ़ रही है . इन विचारों को हतोत्साहित करने में मुसलमानों की प्रतिक्रिया पूर्वाग्रह पूर्ण है.इसे नवसेमेटिक विरोध या इस्लामोफोबिया कहना उसी प्रकार आधारहीन है जैसे नाजी विरोधियों को जर्मनोफोबिया और कम्युनिस्ट विरोधियों को रुसोफोबिया कहना . मुसलमानों को स्वयं को पीड़ित पक्ष के रुप में प्रस्तुत करने के बजाए उन्हें नरम , आधुनिक और अच्छे पड़ोसी वाले इस्लाम का स्वरुप विकसित करना चाहिए जो कट्टरपंथी इस्लाम को रद्द करता हो और काफिरों को पददलित न बनाता हो.
  2. Let's start with what its impact will not be. It will not bring American opinion together; if the “United We Stand” slogan lasted brief months after 9/11, consensus after Boston will be even more elusive. The violence will not lead to Israeli-like security measures in the United States. Nor will it lead to a greater preparedness to handle deadly sudden jihad syndrome violence. It will not end the dispute over the motives behind indiscriminate Muslim violence against non-Muslims. And it certainly will not help resolve current debates over immigration or guns.
    पहले हम इस चर्चा से आरम्भ करते हैं कि इस घटना के क्या परिणाम नहीं होंगे? इससे अमेरिका के विचारों में एकता नहीं आयेगी , यदि 11 सितम्बर के पश्चात “हम एक हैं” का भाव घटना के कुछ महीनों तक टिका था तो बोस्टन के बाद इस आम सहमति की कल्पना भ्रम ही है। इस हिंसा के पश्चात भी अमेरिका में इजरायल जैसी सुरक्षा के लिये कदम नहीं उठाये जायेंगे। इसके चलते अचानक जिहाद की घटनाओं के रोग को रोकने के लिये भी कोई विशेष तैयारी नहीं होगी। इसके पश्चात भी गैर मुस्लिमों के विरुद्ध मुस्लिमों द्वारा की जाने वाली लगातार हिंसा के उद्देश्य को लेकर विवाद समाप्त नहीं होगा। साथ ही निश्चित रूप से इसके चलते आप्रवास और बन्दूक को लेकर चल रही बहस को सुलझाने में भी सहायता नहीं मिलेगी।
More:   Prev  Next


PC Version
हिंदी संस्करण


Copyright © 2021 WordTech Co.