×

rot in a sentence

pronunciation: [ [ rɔt ] ]
rot meaning in Hindi

Examples

  1. By the time it became a force to reckon with , the rot had well set in and it could not be reversed by a mere tinkering with government policies or by the sporadic efforts of a few patriotic Indian entrepreneurs .
    जब तक यह एक शक्ति के रूप में उभर कर सामने आयी , तब तक काफी नुकसान हो चुका था और इसको रोकना केवल किसी सरकारी नीति अथवा कुछ देशभक़्त भारतीय उद्यमियों के छुट-पुट प्रयत्नों से संभव नहीं था .
  2. We hope that business organisations , trade associations , trade unions and supporting bodies such as the Small Business Service will assist businesses in adapting to the new rate through , for example , the sharing of best practice and in developing strategies to adjust .
    हम आशा करते हैं कि व्यवसायिक संगठन , व्यापार संघ , ट्रेड यूनियन तथा लगु उद्योग सेवा जैसे सहायक निकाय , उदाहरण के लिए , उroT kao Apnaanao maoM ]Vaoga kI sahaya%aa kroMgao .
  3. These phosphates and nitrates concentrate in lakes and estuaries causing algal blooms , by which wide expanses of water get choked , plants rot , oxygen is used up and fish die .
    ये फास्फेट और नाइट्रेट झीलों और नदियों के मुहानों में जमा हो जाते हैं.इनके फलस्वरूप उन स्थानों पर काफी अधिक मात्रा में शैवाल उग आती है.इससे दूर-दूर तक पानी शैवालों से भर जाता है , पौधे सड़ जाते हैं और पानी की सारी आक्सीजन समाप्त हो जाने से मछलियां मर जाती हैं .
  4. Anyway , after Matric a munitions factory ' d swallow him up , or maybe he ' d pack his belongings in a bundle and set off for the Reich , not like Dick Whittington though , but on forced labour , and there he ' d rot and rot and do a job he hated until the whole shameful business came to an end .
    जो भी हो , मैट्रिक करने के बाद अस्त्र - शस्त्र बनाने वाली कोई फ़ैक्टरी उसे अपने में निगल लेगी , या उसे अपना बोरिया - बिस्तर बाँधकर रायल को प्रस्थान कर देना होगा - डिक विटिंग्टन की तरह नहीं , बल्कि बेगार की मेहनत पर - और उसे वहां ज़ोर - ज़बरदस्ती से वह काम करना पड़ेगा , जिससे वह घृणा करता है । वह दिन - रात वहाँ सड़ता रहेगा , जब तक यह समूचा लज्जास्पद क़िस्सा ख़त्म नहीं हो जाता ।
  5. Anyway , after Matric a munitions factory ' d swallow him up , or maybe he ' d pack his belongings in a bundle and set off for the Reich , not like Dick Whittington though , but on forced labour , and there he ' d rot and rot and do a job he hated until the whole shameful business came to an end .
    जो भी हो , मैट्रिक करने के बाद अस्त्र - शस्त्र बनाने वाली कोई फ़ैक्टरी उसे अपने में निगल लेगी , या उसे अपना बोरिया - बिस्तर बाँधकर रायल को प्रस्थान कर देना होगा - डिक विटिंग्टन की तरह नहीं , बल्कि बेगार की मेहनत पर - और उसे वहां ज़ोर - ज़बरदस्ती से वह काम करना पड़ेगा , जिससे वह घृणा करता है । वह दिन - रात वहाँ सड़ता रहेगा , जब तक यह समूचा लज्जास्पद क़िस्सा ख़त्म नहीं हो जाता ।
  6. June 19, 2007 update : Today's article builds on prior research I have done, notably the blog at “ Two Palestines? ” which will also update this topic. The danger ... is that in the West Bank - as in the Gaza Strip - infusing massive sums of money from the outside will not facilitate change or rejuvenation, but rather will ensconce the rotting patronage system in its current form. The money will quickly be absorbed into privileged pockets, without ever being used to change the lay of the land. Since its inception, the Palestinian Authority has swallowed enormous sums, without ever creating a productive economic system and effective internal security forces. The PA won't have any problem repeating this exercise time after time. That's what will happen if clear conditions and defined goals aren't set out from the beginning. Sep. 6, 2011 update : The PLO and Hamas are so divided, they even operate on different time zones . Reuters explains how this came about and what it means: After the two zones went off summer time on August 1 to make the Ramadan fast a bit easier to keep,
    इजरायल के एकदम नये रक्षा मंत्री येहुदबराक ने कुछ सप्ताह के भीतर हमास पर आक्रमण की योजना बनाई है परन्तु यदि जेरूसमल भ्रष्ट और अपनी भूमि की मांग करने वाले फतह के साथ चलता रहा ( प्रधानमंत्री येहुद ओलमर्ट ने उन्हें सहयोगी कहा है) तो इससे यही सम्भावना बनेगी कि वास्तव में हमासस्तान पश्चिमी तट को अपने नियन्त्रण में ले लेगा ।
  7. The same utilitarian pattern holds in modern times. Ottoman neglect of Jerusalem in the 19 th century prompted the French novelist Gustav Flaubert to describe it as “Ruins everywhere, and everywhere the odor of graves. … The Holy City of three religions is rotting away from boredom, desertion, and neglect.” Palestinian Arabs rediscovered Jerusalem only after the British conquered it in 1917, when they used it to rouse Muslim sentiments against imperial control. After Jordanian forces seized the city in 1948, however, interest again plummeted.
    यही उपयोगितावाद की परिपाटी आधुनिक समय में भी जारी रही. तुर्की साम्राज्य द्वारा 19वीं शताब्दी में जेरूसलम की उपेक्षा ने फ्रांसीसी उपन्यासकार गुस्ताव फ्लावर्ट को ये बातें कहने पर विवश किया, “सर्वत्र भग्नावशेष और कब्रगाहों के अवशेष हैं-तीन धर्मों का पवित्र शहर विनाश और उपेक्षा से सड़ रहा है ”. 1917 में ब्रिटिश साम्राज्य द्वारा इसे विजित करने पर फिलीस्तीनी अरबवासियों ने इसे साम्राज्यवादी नियन्त्रण के विरूद्ध मुस्लिम जनभावनायें भड़काने के लिये खोज निकाला. 1948 में जार्डन की सेनाओं द्वारा इस शहर पर नियन्त्रण कर लेने के बाद मुस्लिम रूचि पुन: क्षीण हो गई.
More:   Prev  Next


PC Version
हिंदी संस्करण


Copyright © 2021 WordTech Co.