×

journalists in a sentence

journalists meaning in Hindi

Examples

  1. Fortuitously, the Nixon Center and German Marshall Fund then invited me to join a Euro-American group for intensive discussions last week in Istanbul and Ankara with Turkish politicians, journalists, intellectuals, and business leaders. Making the trip more piquant, many of our interlocutors knew my views and quizzed me on them, then gave me quite an earful. Nixon Center group at the Bosphorus.
    तुर्की के प्रधानमंत्री रिशेप तईप एरडोगन 1923 - 34 के मध्य की कमाल अतातुर्क की सेक्यूलर क्रांति के तत्वों को समाप्त कर इसे शरीयत में परिवर्तित कर देना चाहते हैं. इस संबंध में मेरी भविष्यवाणी है कि तुर्की में ए के पी के नाम से प्रसिद्ध जस्टिस एंड डेवलपमेंट पार्टी लोकतांत्रिक प्रक्रिया का उपयोग अपने लक्ष्य की प्राप्ति के लिए करेगी . उपयुक्त समय आने पर यह राजनीतिक प्रतिनिधित्व को या तो समाप्त कर देगी या उसे परिसीमित कर देगी जिसका परिणाम यह होगा कि तुर्की इस्लामी गणराज्य बन जाएगा .
  2. I have never quite figured out what views define a neo-conservative, and whether I am one or not, but others long ago decided this matter for me. Journalists use “neo-conservative” to describe me, editors include my writings in a neo-conservative anthology , critics plumb my views for insight into neo-conservative thinking, and event hosts invite me to represent the neo-conservative viewpoint.
    एक नव परंपरावादी की सतर्कता मैं कभी यह ठीक से नहीं समझ सका कि कौन से विचार किसी को नवपरंपरावादी बना देते हैं और क्या मैं उस श्रेणी में आता हूं या नहीं.वैसे दूसरों ने काफी पहले से मुझे इस श्रेणी में रख रखा है . पत्रकार मेरा वर्णन करते हुए मेरे लिए नवपरंपरावादी शब्द का प्रयोग करते हैं, संपादक नवपरंपरावादी लेखों में मेरे लेख का इस्तेमाल करते हैं , समीक्षक नवपरंपरावादी चिंतन की गहराई समझने के लिए मेरे विचारों को आधार बनाते हैं तथा कार्यक्रमों के आयोजक मुझे नवपरंपरावादी विचारों के प्रतिनिधि के रुप में आमंत्रित करते हैं.
  3. Most important, Mr. Erdoğan sidelined the military establishment (Turkey's ultimate political authority since the days of Atatürk) and the rest of its deep state-the intelligence services, the judiciary, law enforcement and their criminal allies. The AKP government also reversed Atatürk's legacy of looking to the West for inspiration and leadership. The almost complete collapse of anti-Islamist forces-Atatürkist, socialist, Westernizing, military and other-is the most surprising development of the past decade. Opposition leaders did little more than say “no” to AKP initiatives, offering few positive programs and often adopting positions even worse than those of the AKP (such as promoting pro-Damascus and pro-Tehran policies). Likewise, intellectuals, journalists, artists and activists carped and complained but failed to propose an alternative, non-Islamist vision.
    सबसे अधिक महत्वपूर्ण है कि एरडोगन ने सेना को किनारे लगा दिया ( अतातुर्क के समय से ही तुर्की की आत्यन्तिक राजनीतिक शक्ति) साथ ही राज्य के अन्य गम्भीर स्तम्भ गुप्तचर सेवा, न्यायपालिका , कानून प्रवर्तन तथा उनके आपराधिक सहयोगी। एकेपी की सरकार ने अतातुर्क की उस विरासत को भी उलट दिया जिसके अन्तर्गत वे नेतृत्व और प्रेरणा के लिये पश्चिम की ओर देखते थे।
  4. The press, however, generally shies away from the word terrorist , preferring euphemisms. Take the assault that led to the deaths of some 400 people, many of them children, in Beslan, Russia, on September 3. Journalists have delved deep into their thesauruses, finding at least twenty euphemisms for terrorists: The origins of this unwillingness to name terrorists seems to lie in the Arab-Israeli conflict, prompted by an odd combination of sympathy in the press for the Palestinian Arabs and intimidation by them. The sympathy is well known; the intimidation less so. Reuters' Nidal al-Mughrabi made the latter explicit in advice for fellow reporters in Gaza to avoid trouble on the Web site www.newssafety.com , where one tip reads: “Never use the word terrorist or terrorism in describing Palestinian gunmen and militants; people consider them heroes of the conflict.”
    अश्लीलता जैसे कठिन विषय को परिभाषित करते हुए अमेरिका के सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय की प्रमुख प्रतिक्रिया थी .”मैं इसे तब जानता हूं जब इसे देखता हूं “ वैसे तो आतंकवाद को परिभाषित करना कोई कठिन नहीं है लेकिन स्कूली बच्चों की बेसलान में हुई क्रूर हत्या और उनके शवों पर रोते लोगों को देखकर उँची इमारतों में बैठ कर डेस्क पर काम करने वालों के लिए “जब मैं देखता हूँ तब मैं जानता हूँ “ की परिभाषा सटीक बैठती है .
  5. This is the view of most politicians, journalists, and academics but it has little basis in reality. Yes indigenous Europeans could yet rediscover their Christian faith, make more babies, and again cherish their heritage. Yes, they could encourage non-Muslim immigration and acculturate Muslims already living in Europe. Yes, Muslim could accept historic Europe. But not only are such developments not now underway, their prospects are dim. In particular, young Muslims are cultivating grievances and nursing ambitions at odds with their neighbors.
    यह अधिकांश राजनेताओं, पत्रकारों और अकादमिकों का विचार है परंतु वास्तव में इसका आधार नहीं है। हाँ स्वदेशी यूरोपीयन अपनी ईसाई आस्था को फिर से ढूँढ सकते हैं, अधिक संतान उत्पन्न कर सकते हैं और अपनी विरासत के प्रति फिर से लगाव पैदा कर सकते हैं। हाँ वे गैर मुस्लिम आप्रवास को प्रेरित कर सकते हैं और पहले से यूरोप में निवास कर रहे मुसलमानों को आत्मसात होने को प्रेरित कर सकते हैं। हाँ मुसलमान ऐतिहासिक यूरोप को स्वीकार कर सकते हैं । परंतु न केवल इस दिशा में कोई विकास नहीं हो रहा है वरन इसकी सम्भावनायें भी बहुत कम हैं। विशेष रूप से युवक मुसलमान अपनी शिकायत विकसित कर रहा है और ऐसी महत्वाकांक्षा पाल रहा है जो उसके पडोसी से मेल नहीं खाती।
  6. So long as Muslim leaders simply declare themselves, in the spirit of Capt. Renault in the movie Casablanca “shocked, shocked” whenever news of Islamist supremacism leaks out, this cancer will continue unabated. The Islamic schools, the mosques, and other Muslim organizations like CAIR and CIC will continue their cat-and-mouse game so long as it works. It won't work only when outside pressure is brought to bear on them by politicians, journalists, researchers, moderate Muslims, and others. They must state clearly and frequently the unacceptability of Islamist venom. Only then will today's fraudulent “shocked” reaction finally become sincere. Comment on this item Name Email Address (optional) Title of Comments
    उत्तरी अमेरिका के इस्लामिक स्कूल भी इसके अपवाद नहीं हैं . फ्रीडम हाउस ने अभी जल्द ही अपने अध्ययन में पाया है कि अमेरिका कि मस्जिदों में भी यहूदियों और ईसाइयों के विरुद्ध विषवमन हो रहा है .अमेरिका का प्रमुख मुस्लिम संगठन विशेष रुप से काउंसिल औन अमेरिकन इस्लामिक रिलेशन्स सेमेटिक धर्मों के विरुद्ध बड़े पैमाने पर घृणा फैला रहा है और नव नाज़ियों की मेज़बानी कर रहा है.कनाडा में भी ऐसा ही हो रहा है. कनाडियन इस्लामिक कांग्रेस के प्रमुख मोहम्मद एल माशरी ने सार्वजनिक रुप से इस बात को स्वीकृति दी कि 18 वर्ष से अधिक आयु के इज़रायली लोगों को मौत के घाट उतार देना चाहिए .
  7. It will be a long, hard road to traverse, but there is no short cut and it can succeed. Feb. 25, 2013 update : John Hood , president of the John Locke Foundation, a North Carolina-based public-policy think tank, offers an important corrective to Republican gloom in an article, “States of Conservatism,” in today's National Review , arguing that Republican success in state and local politics is an underreported story. … The post-2012 talk of conservatism's electoral weakness and policy failures is disconnected from the personal experiences of many politicians, journalists, analysts, and activists who work at the state and local levels. While grassroots conservatives were disappointed at the reelection of President Obama and Republican misfires in races for the U.S. Senate, they continue to enjoy unprecedented influence and success in state capitals - while local liberals feel alienated from the governments and institutions they long dominated. A few facts:
    मेरा मत इस विचार के अनुरूप है कि “राजनीति संस्कृति से ही चलती है” कुछ अवसरों पर परम्परावादी नीतिगत बहस में भारी पडते हैं , परन्तु वे कक्षाओं में लगातार पराजित होते हैं , सबसे अधिक बिकने वाले स्थलों पर भी पराजित होते हैं, , टेलीविजन पर, फिल्मों में तथा कला के क्षेत्र में भी"। ये उदारवादियों के गढ हैं जहाँ कि डेमोक्रेटिक पार्टी की राजनीति का पोषण होता है, और यह सब अचानक नहीं हो गया है वरन यह दशकों के परिश्रम का परिणाम है जो कि एंटोनियो ग्रामास्की के विचारों के समय तक जाता है।
  8. With so much evidence of fraud at hand, it bewilders us that Western politicians, journalists, and scholars continue to see the shoddy results of the just-concluded Egyptian elections as a valid expression of popular will. Where are the cynical journalists casting doubt on the Salafis coming from nowhere to win 28 percent of the vote? Why do hard-boiled analysts, who see right through rigged elections in Russia and Syria, fall for “the biggest crime of fraud in Egyptian history”? Perhaps because they give Cairo a break on account of its having cooperated with Western powers for nearly 40 years; or perhaps because Tantawi rigs more convincingly.
    हमें इस बात पर आश्चर्य होता है कि धाँधली के इतने साक्ष्यों के बात भी पश्चिमी राजनेता, पत्रकार और विद्वान मिस्र में अभी सम्पन्न हुए चुनावों के दयनीय परिणामों को लोकमत की वास्तविक अभिव्यक्ति मानते हैं। आखिर वे सनकी पत्रकार कहाँ हैं जो कि इस बात पर शंका व्यक्त करें कि अचानक अस्तित्व में न रहने वाले सलाफी 28 प्रतिशत मत प्राप्त कर लेते हैं? आखिर वे विश्लेषक कहाँ हैं जिन्हें कि रूस और सीरिया में चुनावों की धाँधली तो दिखती है और सहन नहीं होती लेकिन “ मिस्र के इतिहास की सबसे बडी धाँधली” में वे कमजोर पड जाते हैं? शायद ऐसा इसलिये है कि काइरो ने पिछले 40 वर्षों से पश्चिमी शक्तियों के साथ सहयोग किया है या फिर शायद इसलिये कि तंतावी बडी सफाई से धाँधली कर ले गये।
  9. The Saudis are engaging in an underhanded propaganda campaign that subverts the U.S. debate concerning Arabian issues. It is vital to prevent such corruption, especially on the delicate issue of Riyadh's self-proclaimed role as America's “friend” in the war against Islamist terrorism. To do so, editors, journalists, radio and television producers, think tank directors, and speaker-series hosts need to ascertain that whoever deals with Saudi issues is not on that country's dole. A simple question, “Are you receiving funds from Saudi Arabia,” should do the trick. Related Topics: Academia , Saudi Arabia receive the latest by email: subscribe to daniel pipes' free mailing list This text may be reposted or forwarded so long as it is presented as an integral whole with complete and accurate information provided about its author, date, place of publication, and original URL. Comment on this item
    सउदी एक गोपनीय संपर्क अभियान में संलग्न हैं जो अरब से संबंधित अमेरिकी बहस को बाधित करती है.यह अत्यंत महत्वपूर्ण है कि ऐसे भ्रष्टाचार को रोका जाए और वह भी इस्लामवादी आतंकवाद के विरुद्ध युद्ध में अमेरिका के मित्र होने के रियाद के स्वयंभू दावे जैसे मुद्दे पर .ऐसा करने के लिए संपादकों , पत्रकारों , रेडियो टीवी प्रस्तुतकर्ताओं , विचारक निदेशकों और व्याख्यानमाला आयोजित करने वालों को सुनिश्चित करना होगा कि सउदी मामले पर विचार रखने वाला उस देश की ओर से तो नहीं बोल रहा . एक सामान्य प्रश्न कि क्या आप सउदी अरब से आर्थिक सहायता प्राप्त करते हैं, काफी कुछ कर सकता है.
  10. The coalition, made up of some 150 people, energetically did research, attended events, peppered public officials - notably Mayor Michael Bloomberg and School Chancellor Joel Klein - with letters, collared journalists, and spoke on radio shows and national television. The odds seemed impossibly long, especially as the city government and most of the city's press clearly supported the KGIA's opening and Ms. Almontaser as principal, while denouncing their critics.
    अलमोण्टेसर को हटाने का प्रयास पाँच महीने पहले आरम्भ हुआ था जब अनेक लोगों ने अरबी के भाषा के विद्यालय में अन्तर्निहित राजनीतिक और धार्मिक समस्याओं की ओर संकेत अनेक विश्लेषणों में किया था। जून तक न्यूयार्क सिटी के नागरिकों में से चिन्तित गुट कुछ विशेषज्ञों के साथ (जिसमें मेरे सहयोगी आर - जान मैथिस भी हैं) मिलकर इस्लामवादियों को कर - दाताओं के धन पर विद्यालय खोलने से रोकने के लिए Stop the Madrassa Coalition बनाया। 150 लोगों से निर्मित इस गठबन्धन ने ऊर्जावान ढंग से शोध किये, कार्यक्रमों में भाग लिया , सार्वजनिक अधिकारियों को पत्र लिखे ( मेयर माइकल ब्लूमवर्ग और विद्यालय के कुलपति जोएल क्लेन ) पत्रकारों से सम्पर्क किया राष्ट्रीय टेलीविजन और रेडियो शो में परिचर्चायें कीं। बाधायें असम्भावित रूप से लम्बी लग रही थीं विशेषकर तब जब सरकार और शहर के मीडिया ने खलील जिब्रान अन्तर्राष्टीय अकादमी और अलमोण्टेसर का प्रधानाचार्य के रूप में समर्थन किया और आलोचकों का विरोध किया।
More:   Prev  Next


PC Version
हिंदी संस्करण


Copyright © 2021 WordTech Co.