×

in retrospect in a sentence

in retrospect meaning in Hindi

Examples

  1. (7) The longer the Syrian insurgency continues, the greater the changes of its prompting unrest in Iran. Plus, it reduces the Erdoğan government's aggressiveness. May 11, 2013 update : And if the premise for the above article turns out to be wrong and Assad is winning, not losing the civil war, then I raise the reverse idea today at “ Support the Syrian Rebels? ” Indeed, in retrospect, “Support Assad” was not the right title for this column, for my argument is not that but “support which ever side is losing.” A more accurate title might have been a quote from Shakespeare's Romeo and Juliet , “A plague o' both your houses!”
    इसी तर्क के आधार पर आज सीरिया की स्थिति के साथ इसकी समानता है। असद सद्दाम हुसैन की स्थिति में हैं एक क्रूर बाथी तानाशाह जिसने कि हिंसा का आरम्भ किया। विद्रोही सेना की तुलना ईरान के साथ की जा सकती है जो कि आरम्भ में पीडित रहा परंतु समय के साथ शक्तिशाली होता गया और समय के साथ इस्लामवादी खतरे को बढा रहा है। लगातार संघर्ष से पडोसियों के लिये खतरा उत्पन्न हो रहा है। दोनों ही पक्ष युद्ध अपराध में संलग्न हैं और पश्चिमी हितों के लिये खतरा पैदा कर रहे हैं।
  2. Dissolution of parliament : On the grounds that the parliamentary elections of Nov. 2011-Jan. 2012, breached the constitution (which prohibits party candidates to run for “individual” seats), the Supreme Administrative Court ruled them invalid in February 2012. On June 14, the SCAF-controlled Supreme Constitutional Court confirmed this decision and dissolved parliament. In retrospect, it appears that SCAF, which oversaw those elections, intentionally allowed Islamists to break the law so as to have an excuse at will to dissolve Egypt's fraudulent parliament.
    संसद को भंग करना: इस आधार पर कि नवम्बर 2011 और जनवरी 2012 के संसदीय चुनावों ने संविधान का उल्लंघन किया है ( जो कि किसी दल के प्रत्याशी को व्यक्तिगत सीट पर चुनाव लड्ने से रोकता है) सर्वोच्च प्रशासनिक न्यायालय ने फरवरी 2012 में इन्हें अयोग्य घोषित कर दिया। 14 जून को एससीएएफ द्वारा नियंत्रित सर्वोच्च संवैधानिक न्यायालय ने इस निर्णय की पुष्टि कर दी और संसद को भंग कर दिया। यदि इस घटनाक्रम को स्मरण करें तो यही दिखता है कि एससीएएफ जिसकी देखरेख में ये चुनाव सम्पन्न हुये थे उसने जानबूझकर नियम टूटने दिये ताकि इसे आधार बनाकर अपनी इच्छानुसार मिस्र की धोखाधडी की ससंद को भंग किया जा सके।
  3. Abbas Mekheimar, tasked with keeping the Muslim Brotherhood out of Egypt's military is aligned with the Muslim Brotherhood. In retrospect, this network should not be a great surprise, for it has a precedent: the Brotherhood had infiltrated the military in the 1940s, standing behind the “Free Officers” movement that overthrew King Farouq in 1952. After having been shut out in the period 1954-74, the Muslim Brotherhood then rebuilt its network of officers in ways invisible and unknown to outside observers, including ourselves. One top Brotherhood figure, Tharwat al-Kharabawi , now acknowledges that some of the organization's members “became high-ranking leaders in the military.”
    यदि भूतकाल को ध्यान में रखें तो इस नेटवर्क को लेकर आश्चर्य नहीं होना चाहिये, क्योंकि इसका एक दृष्टांत है: ब्रदरहुड ने 1940 में भी सेना में अपनी घुसपैठ बनाई थी और “ फ्री आफिसर्स” के पीछे खडे हुए थे जिस आंदोलन ने 1952 में राजा फारूख का तख्ता पलट किया था। 1954 से 1974 के मध्य बंद किये जाने के बाद मुस्लिम ब्रदरहुड ने अपने अधिकारियों के नेटवर्क को पुनः निर्मित किया और यह प्रक्रिया ऐसी थी जो कि बाहर के पर्यवेक्षकों को पता न चल सकी यहाँ तक कि हमें भी। ब्रदरहुड के शीर्ष व्यक्तित्व थरावत अल खराबावी ने अब स्वीकार किया है “ संगठन के कुछ सदस्य सेना में उच्च श्रेणी के अधिकारी बन गये हैं”
  4. Abbas Mekheimar, tasked with keeping the Muslim Brotherhood out of Egypt's military is aligned with the Muslim Brotherhood. In retrospect, this network should not be a great surprise, for it has a precedent: the Brotherhood had infiltrated the military in the 1940s, standing behind the “Free Officers” movement that overthrew King Farouq in 1952. After having been shut out in the period 1954-74, the Muslim Brotherhood then rebuilt its network of officers in ways invisible and unknown to outside observers, including ourselves. One top Brotherhood figure, Tharwat al-Kharabawi , now acknowledges that some of the organization's members “became high-ranking leaders in the military.”
    यदि भूतकाल को ध्यान में रखें तो इस नेटवर्क को लेकर आश्चर्य नहीं होना चाहिये, क्योंकि इसका एक दृष्टांत है: ब्रदरहुड ने 1940 में भी सेना में अपनी घुसपैठ बनाई थी और “ फ्री आफिसर्स” के पीछे खडे हुए थे जिस आंदोलन ने 1952 में राजा फारूख का तख्ता पलट किया था। 1954 से 1974 के मध्य बंद किये जाने के बाद मुस्लिम ब्रदरहुड ने अपने अधिकारियों के नेटवर्क को पुनः निर्मित किया और यह प्रक्रिया ऐसी थी जो कि बाहर के पर्यवेक्षकों को पता न चल सकी यहाँ तक कि हमें भी। ब्रदरहुड के शीर्ष व्यक्तित्व थरावत अल खराबावी ने अब स्वीकार किया है “ संगठन के कुछ सदस्य सेना में उच्च श्रेणी के अधिकारी बन गये हैं”
  5. In retrospect, responses to the Rushdie edict among intellectuals and politicians in 1989 were noteworthy for the support for the imperiled novelist, especially on the left. Leftist intellectuals were more likely to stand by him (Susan Sontag: “our integrity as a nation is as endangered by an attack on a writer as on an oil tanker”) than were those on the right (Patrick Buchanan: “we should shove his blasphemous little novel out into the cold”). But times have changed: Paul Berman recently published a book, The Flight of the Intellectuals , that excoriates his fellow liberals for (as the dust jacket puts it) having “fumbled badly in their effort to grapple with Islamist ideas and violence.”
    यदि देखा जाये तो 1989 में रश्दी के विरुद्ध आदेश का लेखकों और उपन्यास लेखकों में विरोध हुआ था और विशेष रूप से वामपंथियों में। वामपंथी बौद्धिक समाज उनके साथ खडा हुआ था। ( सुसान सोंटांग ने कहा, “ एक लेखक के ऊपर आक्रमण से हमें उतना ही धक्का लगा है जितना एक तेल टैंकर पर आक्रमण से)। इसके बाद दक्षिणपंथी थे ( पैट्रिक बुचानन- ” हमें इस ईशनिन्दित उपन्यास को ठन्डे बक्से में डाल देना चाहिये)। लेकिन समय परिवर्तित हो गया है पाल बर्मन ने हाल में अपनी पुस्तक द फ्लाइट आफ द इंटेलेक्चुवल्स में उन्होंने अपने उदारवादियों की इस कारण आलोचना की है कि वे इस्लामवादी विचार और हिंसा का विरोध करने में असफल रहे हैं।
  6. The subsequent 60 years, however, witnessed a resurgence of the Orthodox element. This was, again, due to many factors, especially a tendency among the non-Orthodox to marry non-Jews and have fewer children. Recent figures on America published by the National Jewish Population Survey also point in this direction. The Orthodox proportion of American synagogue members, for example, went from 11% in 1971 to 16% in 1990 to 21% in 2000-01. (In absolute numbers, it bears noting, the American Jewish population went steadily down during these decades.) Should this trend continue, it is conceivable that the ratio will return to roughly where it was two centuries ago, with the Orthodox again constituting the great majority of Jews. Were that to happen, the non-Orthodox phenomenon could seem in retrospect merely an episode, an interesting, eventful, consequential, and yet doomed search for alternatives, suggesting that living by the law may be essential for maintaining a Jewish identity over the long term.
    उसके बाद 60 वर्षों में परंपरागत तत्वों का पुनर्योदय हुआ. परिणामस्वरुप एक बार फिर ऐसे तत्वों का उदय हुआ जिसमें गैर - परंपरागत लोगों द्वारा गैर - यहूदी से विवाह कम संतानें उत्पन्न करने की प्रवृति रही . अभी कुछ दिनों पूर्व National Jewish Population Survey द्वारा अमेरिका के आंकड़ों के प्रकाशन भी इसी प्रवृति की ओर संकेत करते हैं.अमेरिका के गिरिजाघरों में जाने वाले परंपरागत लोगों का अनुपात 1971 में 11 प्रतिशत से बढ़कर 1990 में 16 प्रतिशत हो गया और 2000-01 में यह अनुपात 21 प्रतिशत बढ़ गया . (ध्यान देने योग्य बात यह है कि इस दौरान अमेरिका में यहूदी जनसंख्या में गिरावट आई) क्या यह प्रवृति जारी रहनी चाहिए . यह समझा जा सकता है कि यह अनुपात दो शताब्दी पूर्व की स्थिति में पहुंच जाएगा जहां परंपारगत लोग यहूदी जवसंख्या का अधिकांश प्रतिशत होंगे .यदि ऐसा होता है तो गैर - परंपरागत रुझान इतिहास की भांति एक रोचक घटनापूर्ण घटनाक्रम होगा जो यह मानते हुए कि लंबे समय तक यहूदी पहचान को सुरक्षित रखने के लिए कानून पर निर्भर रहना होगा अन्य विकल्पों की तलाश बी करेगी .
More:   Prev  Next


PC Version
हिंदी संस्करण


Copyright © 2021 WordTech Co.