×

demise in a sentence

demise meaning in Hindi

Examples

  1. At a certain point, however, Saddam's charade became self-defeating. Pretending to possess WMD meant continued economic sanctions that deprived him of billions of dollars a year, debilitated his economic base and hollowed out his conventional arsenal. Worse (from his point of view), the fakery spurred his removal from power, the execution of his sons, and his own likely capture or demise.
    एक निश्चित बिन्दु पर सद्दाम का भ्रमित करने का यह खेल आत्म पराजय का कारण बना । जनसंहारक हथियार धारण करने के इस बहाने से उन पर आर्थिक प्रतिबंध लगा और प्रत्येक वर्ष अरबों डॉलर से वंचित रहे इससे उनकी आर्थिक स्थिति कमजोर हुई और उनके परंपरागत हथियार भी खाली हो गए ।
  2. By 1945 and 1991, respectively, these two totalitarianisms had been vanquished through defeat in war, one violently (in World War II), the other subtly (in the cold war). Their near demise emboldened some optimists to imagine that the era of utopianism and totalitarianism had come to end and that a liberal order had permanently replaced them.
    1945 से 1991 तक इन दोनों ही अधिनायकवादी विचारधाराओं को द्वितीय विश्व युद्ध में हिंसक ढंग से तथा शीतयुद्ध में चतुराई पूर्वक नष्ट किया गया. इनकी प्राय: समाप्ति से कुछ आशावादियों की यह धारणा दृढ़ हो गई कि कल्पनावादियों और अधिनायकवादियों का युग सदैव के लिये समाप्त हो गया तथा उदारवादी व्यवस्था ने उसका स्थान ले लिया.
  3. As Egyptians await the demise of the sickly Hosni, so infirm he can barely walk of his own accord, speculating and worrying about what comes next, he plots away. Judging from the evidence - and we write this with caution - it appears he has decided to maneuver Gamal to power on the back of Egypt's Christians, known as Copts.
    जब कि मिस्र के लोग अस्वस्थ होस्नी के समाप्त होने की प्रतीक्षा कर रहे हैं तो लोगों को इस बात की चिंता है और सुगबुगाहट है कि वह अपनी शर्तों पर जाते हैं तो आगे होगा क्या? साक्ष्यों के आधार पर लिखते हुए भी सतर्क होकर कह रहा हूँ कि ऐसा लगता है वे गमाल को मिस्र के ईसाइयों जिन्हें कि काप्ट के रूप में जाना जाता है उनके ऊपर ही इनकी सत्ता की सवारी करायेंगे।
  4. MAX RIVERS Shutesbury, Massachusetts To the Editor: Daniel Pipes argues that the conflict in which America is now engaged is not-to use Samuel P. Huntington's term-a “clash of civilizations” between Islam and the West. Mr. Pipes takes a more optimistic view, seeing the conflict primarily as an internecine affair between radical and moderate Muslims. As he points out, Islamists are no less vicious in eradicating dissent among their coreligionists than in their enmity toward the West. Islamism, he suggests, is just another ideology, like Soviet Communism. Given adequate time, commitment, and resources, it too can be contained until its eventual demise.
    परंतु इस्लामी विश्व में आंतरिक विरोध की बात स्वीकार कर लेने से भी हट्टिंगटन की धारणा खंडित नहीं होती। यदि इस्लामी कट्टरपंथी जिस जुनून से अन्य मुसलमानों की विविधता और व्यक्तिगत स्वतंत्रता के साथ मार पीट कर रहे हैं वही यह सिद्ध करने के लिये पर्याप्त है कि उनकी सभ्यता और हमारी सभ्यता में संघर्ष है।
  5. The MEK mounted an impressive display in France, as it did at the last meeting I attended, in 2007 , with dignitaries, made-for-television pageantry, and a powerful speech by its leader, Maryam Rajavi. Like the street protestors, she also called for the demise of the Khomeinist regime. In a 4,000-word speech , she steered blessedly clear of attacks on the United States or Israel and excluded the conspiracy-theory mongering so common to Iranian political life. Instead, she:
    एमईके ने फ्रांस में अत्यंत प्रभावी प्रदर्शन किया जैसा कि इसने 2007 में अपनी अंतिम बैठक में किया था जिसमें कि मैं शामिल हुआ था जिसमें विशिष्ट आगंतुक , टीवी पर दिखाने के लिये तथा इसके नेता मारयाम रजावी द्वारा एक शक्तिशाली व्याख्यान। सडक पर हो रहे प्रदर्शन की भाँति उन्होंने भी खोमैनी शासन के समाप्ति की माँग की। अपने 4,000 शब्दों के व्याख्यान में उन्होंने अमेरिका और इजरायल पर कोई आक्रमण नहीं किया तथा ईरान के राजनीतिक जीवन में सामान्य षडयंत्रकारी सिद्दांत को भी इससे अलग रखा। इसके बजाय उन्होंने
  6. Several recent changes render deterrence less adequate than in the past. For one thing, the demise of the Soviet Union means that no preeminent enemy power exists to restrain the hotheads, for example in North Korea. For another, the proliferation of weapons of mass destruction raises the stakes; a U.S. President cannot afford to wait for American cities to be destroyed. And for a third, the spread of Islamist terror networks renders deterrence ineffectual, there being no way to retaliate against al Qaeda.
    हाल के कुछ परिवर्तन संकेत देते हैं कि शक्ति संतुलन उतने प्रभावी नहीं रहे जितने पहले थे . सोवियत संघ के पतन का अर्थ है कि पहले से होने से भी आवश्यक नहीं कि शत्रु किसी शक्ति को रोकने के लिए अस्तित्व में रहे जैसे उत्तरी कोरिया . इसके अलावा सामूहिक संहार के हथियारों के प्रसार से काफी कुछ दांव पर लग गया है.. अब अमेरिका के राष्ट्रपति इस आशा में नहीं बैठे रह सकते कि अमेरिका के शहर नष्ट हो जायें. तीसरा- इस्लामवादी आतंकवादी जाल फैल जाने से शक्ति संतुलन अप्रभावी हो जाता है . अल -कायदा के विरुद्ध जवाबी कारवाई का कोई रास्ता नहीं है.
  7. As 2011's winds of change reached Syria, crowds yelling Suriya, hurriya (“Syria, freedom”) lost their fear of the baby dictator. Panicked, Bashar wove between violence and appeasement . If the Assad dynasty meets its demise, this will have potentially ruinous consequences for the minority Alawi community from which it derives. Sunni Islamists who have the inside track to succeed the Assads will probably withdraw Syria from the Iranian-led “resistance” bloc , meaning that a change of regime will have mixed implications for the West, and for Israel especially.
    जब 2011 की परिवर्तन की हवा सीरिया पहुँची तो लोगों ने नारा लगाना आरम्भ किया “ सुरिया हुरिया ( सीरिया की स्वतन्त्रता)” और इस क्रम में अपने बाल तानाशाह के लिये उनका डर समाप्त हो गया। भयभीत बशर ने हिंसा और तुष्टीकरण की नीति अपनायी। यदि असाद राजवंश का अंत होता है तो जिस अलावी समुदाय से वे आते हैं उस अल्पसंख्यक समुदाय पर इसका विनाशकारी प्रभाव होगा। सुन्नी इस्लामवादी जो कि अंदर से यह शक्ति रखते हैं कि असद के उत्तराधिकारी बनें तो सम्भवतः वे सीरिया को ईरान नीत प्रतिरोध गुट से बाहर निकाल लेंगे और इसका अर्थ यह है कि शासन के परिवर्तन का पश्चिम और विशेष रूप से इजरायल पर मिश्रित प्रभाव होगा।
  8. The accident had great consequence because Basil, then 31, was being groomed to succeed his father, Hafez Al-Assad, as dictator of Syria. All indications pointed to the equestrian, martial, and charismatic Basil making for a formidable ruler. After the car crash, his younger brother Bashar got yanked back from his ophthalmologic studies in London and enrolled in a rapid course to prepare as Syria's next strongman. He perfunctorily ascended the military ranks and on his father's demise in June 2000 he, sure enough, succeeded to the presidential throne.
    सही मात्रा में सीरिया का भाग्य 21 जनवरी 1994 को उस समय निर्धारित हुआ जब वायुमार्ग से विदेश यात्रा के लिए जाते समय दमिश्क हवाई अड्डे पर वाशिल अल -असद की मर्सिडीज कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई जिसमें उनके सहित एक अन्य यात्री की मृत्यु हो गई .इस दुर्घटना के कुछ बड़े परिणाम हुए हैं क्योंकि 31 वर्षीय वाशिल सीरिया के तानाशाह के रुप में अपने पिता हाफ़िज अल असद का स्थान लेने की ओर विकासमान थे ऐसे संकेत मिल रहे थे कि घुड़सवार,योद्धा वाशिल एक करिश्माई उत्तराधिकारी सिद्ध होते . इस कार दुर्घटना के बाद वाशिल के छोटे भाई बशर लंदन से अपनी आंखों के विषय की पढ़ाई को छोड़ कर वापस लौटे तथा सीरिया के अगले शक्तिशाली व्यक्ति बनने की प्रक्रिया में सम्मिलित हो गए. सेना के विभिन्न सोपानों का काम बिना दायित्व के संभाला फिर जून 2000 में अपने पिता की मृत्यु के बाद राष्ट्रपति की गद्दी पर बैठे.
  9. It's startling to realize that $4.5 million a year produced a mere 55,000 monthly copies of Hi and (according to alexa.com) a website that ranks about 900,000 th from the top, suggesting it gets about 100 hits a day. The magazine has been an embarrassment and a waste of money. (When did the war on terror become the war on wrinkles?) But even had Hi been better conceived and executed, it - and to a lesser degree, such American government efforts as Radio Sawa and Al-Hurra Television - is misconceived. Like generals fighting the last war, diplomats recall the successes of Radio Liberty and Radio Free Europe in providing precious information to Soviet bloc peoples and thereby helping to bring about the demise of the Soviet Union and its satellites. Doing what they know worked once, they largely adopted the same informational model for Hi , Sawa, and Al-Hurra.
    यह सुखद रहा कि अमेरिका राज्य विभाग में जन कूटनीति के विक्रेता केरेन ह्यूजेज ने जनता के कर से वित्तपोषित होने वाली पत्रिका Hi International के माध्यम से अरब तथा अन्य विदेशी भाषा-भाषी लोगों तक पहुंचने के प्रयास को स्थगित कर दिया है .यह जानकर बड़ा आश्चर्य हुआ कि 4.5 मिलियन डॉलर के सालाना खर्च वाली Hi पत्रिका की महीने में 55 हजार प्रतियां छपती हैं तथा Alexa.com ने इसे ऊपर से 900,000 की रैंकिंग दी है और प्रति दिन 100 लोग इस वेबसाईट को देखते हैं. यह पत्रिका एक उलझन और धन का अपव्यय है . लेकिन Hi पत्रिका को बेहतर तरीके से चलाया जाता तो कुछ हद तक अमेरिका प्रशासन रेडियो सावा और अल हुरा टेलीविजन को भी ठीक ढ़ंग से चला सकता था .युद्ध लड़ने वाले जनरल कूटनीति के अपने पिछले अनुभव को सुनाते हैं कि किस प्रकार रेडियो लिबर्टी और रेडियो फ्री यूरोप के माध्यम से सोवियत लोगों को महत्वपूर्ण सूचनाएं उपलब्ध कराई जाती थीं जिससे उनकी सेटेलाईट को प्रभाव किया जा सका . ऐसा करते हुए उन्होंने Hi पत्रिका और सावा तथा अल -हुरा के लिए भी सूचनायें उपलब्ध कराने का वही तरीका ढूंढा है. लेकिन ध्यान देने की बात यह है कि मुसलमानों और विशेष रुप से इस्लामवादियों के पास उपयुक्त सूचनाओं का अभाव नहीं है और वे पश्चिम की सूचनाओं पर उतना निर्भर नहीं करते जितना सोवियत के लोग करते थे . इसके विपरीत बहुत से ऐसे संकेत हैं जो साफ करते हैं कि मुसलमान अपने सहधर्मियों की रिपोर्ट पर अधिक विश्वास करते हैं बजाए उनके जो गैर-मुसलमानों द्वारा बनाई गई हैं.
More:   Prev  Next


PC Version
हिंदी संस्करण


Copyright © 2021 WordTech Co.